माँ से बड़ा पवित्र कोई लब्ज नहीं | Story In Hindi

short story,bedtime stories,story,kahani,kahaniya,love story in hindi,short story in hindi,story in hindi

तू माँ जिसे कहता हे माँ से बड़ा पवित्र कोई लब्ज नहीं
तू मार बेसक उस बेबफा को ठोकर मगर ठुकरा के माँ का प्यार कभी तू कामयाब हो पायेगा नहीं
तू जब छोटा था तो खाने के लिए रोता था माँ खिलाती थी तुझे अपने हाँथो से खुद भुखे रह जाती थी मगर तू मानता था नहीं
तू कहता है आज में हो गया हूँ इतना बड़ा तुझे पता है माँ दुख काट के परेशानयो को झेल के तुझे किया है इतना बड़ा व माँ थी कोई और नहीं
तू माँ बाप के बातो को मार के ठोकर तू करेगा कोई भी काम सफल तू कभी हो पायेगा नहीं
हर मुश्किल हो जायेगा आशान माँ बाप को याद करते ही क्यूंकि इस दुनिया में माँ बाप से बड़ा भगवान है कोई और नहीं

Post a Comment

motivational quotes | sad shayari image | frined quotes | positive attitude | story in hindi | funny jokes | mahakal status

Previous Post Next Post