Ad Code

घूंट घूंट के जी रहा हूँ तेरे बिना | story in hindi

short story,bedtime stories,story,kahani,kahaniya,love story in hindi,short story in hindi,story in hindi

लड़का : I LOVE YOU जान
लड़की : तो में क्या करू
लड़का : its ok ही बोल देती
लड़की : देखो तुम मुझे जान मत बोलो
लड़का : ok sweet तो बोल सकता हूँ ना
लड़की : नहीं ना जान ना sweet ok
लड़का : लेकिन i love you sweet
लड़की : बहुत हो गया यार अब बस भी करो
लड़का : क्या तुम मुझसे प्यार नहीं करती
लड़की : नहीं तो में मस्ती कर रही थी
तुम सीरियस हो गए तो में क्या करू
लड़का प्यार तुम्हे मजाक लगता है अगर यही
करना था तो क्यों आयी मेरी जिंदगी में
लड़की : में तो टाइम पास कर रही थी और तुम
उसे सच समझ बैठे गलती तुम्हारी है
लड़का : प्लीज जान ऐसा मत करो प्लीज
लड़की : मजाक तो पहले था अब नहीं और सुनो कभी
दुबारा मुझे फ़ोन मत करना और भूल जाओ मुझे
वो सब एक टाइम पास था और तुम मुझसे दूर चले जाओ
फिर कभी मुझे ढूँढना नहीं और लड़की फ़ोन काट देती है
लड़का बहुत बार फ़ोन करता है लेकिन फ़ोन बंद रहता है
दूसरे नम्बर पे भी फ़ोन करता है लेकिन फ़ोन लगता नहीं है
लड़का घर आकर सोंचता है अपने हाँथ का नस काट लू मिटा
दू अपने आपको फिर सोंचता है मम्मी पापा का क्या होगा वो
मम्मी के पास आकर मम्मी से गले लगकर खूब रोता है
और वो कुछ दिन बाद दूसरे सहर चला जाता है
वो उस लड़की को बहुत प्यार करता था उसने कभी ओर किसी
से प्यार नहीं किया और ना कभी किसी से शादी की
लोगो के सामने हँसता था और लड़की के याद में जीने लगा
लड़की भी बेवफा नहीं ।।।।
उसकी शादी उसके मम्मी पापा ने कही और तय कर दी थी
और उसे कसम दिलाई की अगर तू शादी नहीं करेगी तो तू
हमारा मारा मुँह देखेगी ।।।
लड़की ने अपने मम्मी पापा के लिये अपने प्यार को छोड़ दिया
और शादी कर ली
दूसरे दिन लड़की ने आत्महत्या कर ली
लड़की ने लड़के को सहर जाने के लिये इस लिये बोला
ताकि उसे पता ना चले की उसका प्यार अब इस दुनिया में नहीं है

Post a Comment

0 Comments